राजस्थान के जोधपुर जिले में हिंसा होने पर एआईएमआईएम सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने सीएम गहलोत पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- क्या गहलोत सरकार संघ से इतना डर गई है कि वो अपनी  संवैधानिक जिम्मेदारी भी नहीं निभाना चाहती है। राजस्थान के मुसलमान का न तो रमजान अमन से गुजरा  और न ही  उनकी ईद। अगर गहलोत गहलोत सरकार इन मुजरिमों के खिलाफ उदाहरणात्मक कार्रवाई करती तो क्या इन गुंडों की इतनी हिम्मत होती? उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा- भाजपा और संघ परिवार के लोग बार-बार राजस्थान का माहौल खराब कर रहे हैं। पीएमओ इंडिया के मंत्री इतने जल्दी जोधपुर पहुंच जाना। इस बात का सबूत है कि  भाजपा अपनी सियासत चमकाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। 

गहलोत पर बोला जुबानी हमला

ओवैसी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर भी जुबानी हमला बोला है। ओवैसी ने ट्विट कर कहा है कि अशोक गहलोत के पिछले शासनकाल में भी इसी तरह मुसलमान हिंदुत्ववादी संगठनों और पुलिस जाति के शिकार हुए थे और। इस शासनकाल में भी हालात वही बने हुए हैं। एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद के सांसद ने बुधवर को एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए लिखा कि भाजपा और संघ परिवार के लोग  बार-बार राजस्थान का माहौल खराब कर रहे हैं। केंद्र सरकार के मंत्री का इतनी जल्दी जोधपुर पहुंच जाना इस बात का सबूत है कि भाजपा अपनी सियासत चमकाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. मोदी सरकार नफरत की आग को भड़का रही है और उसके मंत्री घी डालने का काम कर रहे हैं।

गहलोत राज में हालात नहीं सुधरे 

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि अशोक गहलोत की पिछली सरकार में भी मुसलमान, पुलिस की ज्यादती और हिंदुत्ववादी संगठनों के जुल्म का शिकार हुए थे और इस सरकार में भी हालात नहीं बदले। क्या गहलोत सरकार संघ से इतना डर गई है कि वो अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी भी नहीं निभाना चाहती ? राजस्थान के मुसलमानों का न तो रमजान अमन से गुजरा और न ही उनकी ईद. गहलोत सरकार मुजरिमों के खिलाफ उदाहरणात्मक कार्रवाई करती तो क्या इनकी इतनी हिम्मत होती ?

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment