महाराष्ट्र में मस्जिदों में लाउडस्पीर पर राज ठाकरे की टिप्पणी के बाद अब वहां पर मामला गर्माता जा रहा है. इस मुद्दे पर अब पाप्युलर फ्रंट ने महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) को चेतावनी दी है. पाप्युलर फ्रंट से जुडे़ मतीन शेख ने कहा कि यदि मस्जिद के किसी भी एक लाउडस्पीकर पर आपने हाथ लगाने की कोशिश की तो सबसे आगे हम खड़े नजर आएंगे. 

मुंबई से सटे ठाणे ग्रामीण के मुस्लिम बहुल इलाके मुम्ब्रा अध्यक्ष मतीन शेखानी ने मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत अन्य राज्यों में हुई हिंसा को लेकर विरोध जताया है. पाप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) ने बड़ी चेतावनी दी है. मुम्ब्रा में आज यह कहते हुए आंदोलन किया गया कि अगर छेड़ोगे तो नहीं छोड़ेंगे. मुम्ब्रा में आज जुमे की नमाज के बाद कई अल्पसंख्यक मस्जिद के बाहर जमा हो गए थे.

विभिन्न शहरों में की गई हिंसा की निंदा

उस समय रामनवमी के दिन भारत के विभिन्न शहरों में हुई हिंसा की भी निंदा की गई थी. राज ठाकरे द्वारा सींग कम करने के लिए दिए गए अल्टीमेटम के लिए भी उनकी आलोचना की गई थी. हम चाहते हैं देश में शांति,हालांकि, अगर आप बजर को छूते हैं, तो हम भी चुप नहीं रहेंगे, पीएफआई मुम्ब्रा के अध्यक्ष मतिन शेखानी ने अपने भाषण में कहा.

अमन की है ख्वाहिश

इस मौके पर मतीन शेख ने कहा कि कुछ लोगों ने कहा कि कुछ लोगों को अजान से तकलीफ हो रही है लेकिन ऐसे लोगों से हम सिर्फ यही कहना चाहते हैं कि हमारी ख्वाहिश अमन की है. शेखानी ने कहा कि मैं कहना चाहते हूं कि कुछ लोग मुम्ब्रा का माहौल खराब करना चाह रहे हैं. कुछ लोगों को अजान से तकलीफ हो रही है. कुछ लोगों को हमारे मदरसे और मस्जिद से तकलीफ हो रही है. मैं इनको एक ही मैसेज देना चाहते हैं कि हम अमन चाहते हैं. 

क्या है मौजूदा विवाद

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने मंगलवार को समान नागरिक संहिता (Common Civil Code) की वकालत की और जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करने की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने महाराष्ट्र की एक रैली में अपनी यह मांग भी दोहराई कि मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाए जाने चाहिए.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment