NEW DELHI, INDIA - JANUARY 10, 2008: Hyundai unveils its concept car Veloster at the 9th Auto Expo at the ninth Auto Expo on January 10, 2008 in New Delhi, India. (Photo by Vipin Kumar/Hindustan Times via Getty Images)

कश्मीर पर Hyundai Pakistan के विवादित ट्वीट के बाद भारत ने सख्त रुख दिखाया है. भारत ने दक्षिण कोरियाई राजदूत को तलब करने के साथ साथ सियोल में भी ऐतराज जताया है.

कश्मीर पर Hyundai Pakistan (हुंडई पाकिस्तान) के विवादित ट्वीट के बाद भारत ने सख्त रुख दिखाया है. भारत ने दक्षिण कोरियाई राजदूत को तलब करने के साथ साथ सियोल में भी ऐतराज जताया है. भारत ने साथ ही हुंडई कंपनी के वरिष्ठ नेतृत्व से भी नाराजगी जताई है. वहीं भारत के कड़े रुख के बाद दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्री ने भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर को फोन कर घटनाक्रम पर खेद जताया है.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, ”दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्री चुंग ईयू-यंग ने आज फोन किया. इस दौरान द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मुद्दों के साथ-साथ हुंडई (Hyundai) मामले पर भी चर्चा हुई.”

बता दें कि हुंडई के पाकिस्तानी डीलर के ट्विटर अकाउंट से जो संदेश पोस्ट किया गया था उसमें ‘कश्मीर एकता दिवस’ का समर्थन किया गया था. इस पोस्ट के बाद ट्विटर पर ‘हैशटैग बॉयकाट हुंडई ट्रेंड’ करने लगा और कई लोग हुंडई के उत्पाद नहीं खरीदने की अपील करने लगे. इसके बाद हुंडई मोटर्स इंडिया ने सोशल मीडिया पर एक संदेश जारी कर स्पष्ट किया था कि वह भारतीय बाजार के प्रति प्रतिबद्ध है.

साथ ही कंपनी ने आज माफीनामा जारी किया. विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि हुंडई कंपनी ने यह साफ किया है कि वह राजनीतिक और धार्मिक मसलों पर टिप्पणी नहीं करेगी. विदेश मंत्रालय ने कहा कि दक्षिण कोरिया के राजदूत को हुंडई की पाकिस्तान इकाई की तरफ से साझा की गई अस्वीकार्य सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर कड़ी नाखुशी से अवगत कराया गया.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment