19.1 C
Delhi
Friday, December 2, 2022
No menu items!

Blue tick के बाद अब ट्विटर चलाने के भी पैसे देने पड़ सकते है, देखें रिपोर्ट

- Advertisement -
- Advertisement -

अगर आपको लगता है कि ब्लू टिक का पैसा चुका देने से ही टि्वटर का सारा काम हो जाएगा, तो ऐसा नहीं है. इलॉन मस्क आपको इतनी आसानी से नहीं जाने देने वाले.

उनकी प्लानिंग बहुत बड़ी है और अब वे टि्वटर इस्तेमाल करने के लिए भी आपसे पैसे लेंगे. जी हां. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मस्क की प्लानिंग उन सभी यूजर से चार्ज लेने की है, जो सोशल मीडिया साइट टि्वटर का इस्तेमाल करते हैं. चाहे आप ब्लू टिक वाले हों या नहीं हों. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, आपको कुछ न कुछ चार्ज जरूर देने होंगे.

- Advertisement -

रिपोर्ट कहती है कि इलॉन मस्क टि्वटर यूजर के लिए सब्सक्रिप्शन प्लान लेकर आ सकते हैं. यानी टि्वटर एक्सेस करने और माइक्रो ब्लॉगिंग साइट को इस्तेमाल करने के लिए यूजर को कुछ न कुछ सब्सक्रिप्शन चार्ज देना होगा. ऐसी तैयारी इसलिए है क्योंकि मस्क टि्वटर से सीधी कमाई करना चाहते हैं. शुरू में ऐसा कहा गया था कि टि्वटर पेड नहीं होगा और यह सबके लिए फ्री होगा. लेकिन आने वाले समय में यह नियम टूटता नजर आ रहा है.

दोतरफा कमाई की प्लानिंगइ

लॉन मस्क की प्लानिंग टि्वटर से दोतरफा कमाई की है. एक तरफ वे ब्लू टिक के लिए हर महीने 8 डॉलर लेने की बात कह चुके हैं जो कि भारतीय करंसी में लगभग 660 रुपये होगा. दूसरी ओर, नई प्लानिंग टि्वटर यूजर के लिए सब्सक्रिप्शन फी लेने की है. रिपोर्ट कहती है कि मस्क ने अपनी टीम के साथ मीटिंग में इस विचार पर गौर किया है. इतना ही नहीं, मस्क इस बात पर विचार कर रहे हैं कि हर महीने यूजर को एक खास अवधि के लिए टि्वटर का एक्सेस फ्री होगा, उसके बाद के लिए यूजर को सब्सक्रिप्शन फीस देनी होगी.

टि्वटर का फ्री एक्सेस नहीं!

फ्री ऑफर खत्म होने के बाद यूजर टि्वटर साइट नहीं खोल सकेगा और उसके सब्सक्रिप्शन फी देने के बाद ही एक्सेस मिलेगा. अभी यह प्लानिंग है और इस पर अंतिम निर्णय होना है, जैसा कि रिपोर्ट में दावा किया गया है. कहा जा रहा है कि इलॉन मस्क अभी टि्वटर के ब्लू टिक प्रोजेक्ट में बेहद व्यस्त हैं. वे जल्द से जल्द 8 डॉलर प्रति महीने वाले नियम को लागू करना चाहते हैं. जब यह पूरी तरह से अमल में आ जाएगा, तो मस्क सब्सक्रिप्शन फी को सामने ला सकते हैं.

जल्द आएगा 8 डॉलर का नियम

हालांकि 8 डॉलर फी का नियम हर देशों के लिए नहीं है और उन देशों के यूजर इसे चुकाएंगे जहां टि्वटर की कमाई सबसे अधिक है. इसमें एक देश भारत भी है जहां टि्वटर के लाखों यूजर है. ब्लू टिक का इस्तेमाल टि्वटर यूजर के वेरिफिकेशन के लिए होता है और इससे पता चलता है कि यूजर का अकाउंट वेरिफाइड है. इस टिक के लिए यूजर को अब 8 डॉलर हर महीने देना होगा. इलॉन मस्क कह चुके हैं कि भारत में यह फीचर महीने दिन के भीतर लॉन्च हो सकता है.

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img