13.1 C
Delhi
Saturday, January 28, 2023
No menu items!

जमानत मिलने के बाद जिग्नेश मेवाणी ने दिखाएं पुष्पा वाले तेवर, कहा- झुकूंगा नहीं

- Advertisement -
- Advertisement -

Gujarat News: गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी को असम की बारपेटा जिले की अदालत द्वारा जमानत मिल गई है. ऐसे में मेवाणी ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ बीजेपी ने उनके खिलाफ एक महिला का इस्तेमाल करके केस तैयार करके एक कायरतापूर्ण काम किया है. साथ ही फिल्म पुष्पा की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि मैं नहीं झुकूंगा (झुकेगा नहीं).

मेवानी के खिलाफ मामले के अनुसार मेवानी ने उक्त महिला पुलिसकर्मी पर ”हमला” उस समय किया, जब पुलिस दल उन्हें गुवाहाटी से कोकराझार ले जा रहा था. बारपेटा जिला एवं सत्र न्यायाधीश परेश चक्रवर्ती ने बारपेटा रोड पुलिस थाने में दर्ज मामले में मेवानी को एक हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी.

- Advertisement -

25 अप्रैल को उन्हें गिरफ्तार किया गया था

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर ट्वीट के मामले में असम की एक अन्य अदालत द्वारा जमानत दे दी गई थी. जिसके बाद दोबारा असम पुलिस की एक महिला कांस्टेबल पर कथित हमले के मामले में 25 अप्रैल को उन्हें गिरफ्तार किया गया था. मेवाणी ने जमानत के बाद शुक्रवार को कहा कि ”मेरी गिरफ्तारी कोई साधारण मामला नहीं था. यह पीएमओ (प्रधान मंत्री कार्यालय) में राजनीतिक आकाओं के निर्देश के तहत किया गया होगा.”

‘मैंने जो ट्वीट किया उस पर मुझे अब भी गर्व है’

उन्होंने आगे कहा कि “मैंने जो ट्वीट किया उस पर मुझे अब भी गर्व है. ट्वीट में, मैंने मूल रूप से प्रधान मंत्री से शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए कहा था क्योंकि भारत के नागरिक के रूप में, मुझे यह पूछने का अधिकार है. एक विधायक के रूप में हमारा कर्तव्य क्या है? लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह करना है, इसलिए मैंने यही किया और दूसरे मामले में उन्होंने एक महिला का उपयोग करके मामला बनाने के लिए एक कहानी गढ़ी. सरकार इतनी कायर है कि उसने मेरे खिलाफ एक महिला का इस्तेमाल किया.

‘चुनाव को लेकर निशाना बनाया जा रहा’

मेवाणी ने आगे कहा कि ”गुजरात में चुनाव आ रहे हैं, इसलिए मुझे निशाना बनाया जा रहा है. लोग इस चाल को समझ गए हैं. जिस वक़्त मुझे गुजरात में उठाया गया, मुझे पता था कि वे मुझे अलग-अलग मामलों में फंसाने की योजना बना रहे थे. गुजरात के एक विधायक को असम में निशाना बनाना एक बड़ी साजिश का हिस्सा था. जो भी उनसे सवाल करता है, जो सच बोलता है, उसके खिलाफ वे मामले दर्ज करते हैं. जिस तरह से असम और कांग्रेस ने मुझे समर्थन दिया, वह बहुत मददगार था.

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here