बंगाल के विभिन्न इलाकों में टीएमसी की ओर से बंगाली प्रधानमंत्री की मांग पर पोस्टर लगने शुरू हो गए हैं.

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव ( West Bengal Assembly Election) प्रचार के दौरान ‘खेला होबे’ (Khela Hobe) गाने की जमकर धूम मची थी. 200 सीटों पर जीत के साथ बंगाल में बीजेपी (BJP) की सरकार बनाने का सपना ममता बनर्जी के ‘खेला होबे’ ने चकनाचूर कर दिया था और विधानसभा चुनाव के बाद तीसरी बार बंगाल की सीएम बनने वाली ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) ने अब एक नया नारा उछाला है और वीडियो जमकर वायरल (Video Viral) हो रहा है. उस वीडियो के गाने के बोल हैं.. ‘ दीदी एबार दिल्ली चलो’ (Didi Ebar Delhi Chalo) यानी दिल्ली इस बार दिल्ली चलो. इसके साथ ही बंगाल के विभिन्न इलाकों में पोस्टर साटे जा रहे हैं, जिनमें ‘बंगाली पीएम’ की मांग उठ रही है.

बता दें पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ‘खेला होबे, खेला होबे’ का जमकर शोर मचा था. हिंदी में इसका अर्थ होता है ‘खेल होगा, खेल होगा’. यह गाना और राजनीतिक नारा ने चुनावी बाजार में जमकर धूम मचाया था और राजनीतिक सभाओं से लेकर हर जगह यह सुनाई देता था और बंगाल में फिर से ममता बनर्जी के सत्ता में वापसी के बाद यह नारा बीजेपी विरोध के नारे के रूप में तब्दील हो गया है.अब उत्तर प्रदेश चुनाव के पहले वहां भी इस नारे की गूंज सुनाई दे रही है.

बंगाली पीएम की टीएमसी उठा रही है आवाज

दूसरी ओर, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की जीत के बाद से ममता बनर्जी को देश का अगले पीएम कैंडिड्स के रूप में पेश करने की तैयारी चल रही है. इस बाबत बंगाल के विभिन्न इलाकों में पोस्टर में लगाए गए हैं, जिन पर लिखा है, ‘एबार बंगाली प्रधानमंत्री चाई’ यानी इस पर बंगाली प्रधानमंत्री चाहिए. विधानसभा चुनाव में बीजेपी की कड़ी टक्कर के बावजूद जिस तरह से टीएमसी ने ममता बनर्जी के नेतृत्व में 213 सीटों पर जीत हासिल की है. उससे ममता बनर्जी और उनकी पार्टी का आत्मविश्वास काफी बढ़ गया है और टीएमसी ने साल 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर पार्टी ने राजनीतिक रूप से अपने को मजबूत बनाना शुरू कर दिया है. पार्टी के एमपी और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है, तो बीजेपी से टीएमसी में घर वापसी किए मुकुल रॉय को भी पार्टी में अहम जिम्मेदारी दी जा रही है. पार्टी ने राष्ट्रीय स्तर प्रचार और प्रसार की योजना पर काम करना शुरू कर दिया है.

गाने के बनाए जा रहे हैं कॉलर ट्यून और रिंग टोन

साल 2024 की चुनावी रणनीति के तहत पार्टी छात्र और युवाओं पर फोकस कर रही है. इस बार छात्र संगठन को मजबूत करने के लिए एक नया गीत बनाया गया है. यह गीत ममता बनर्जी और अभिषेक बंद्योपाध्याय को सामने रख कर बनाया गया है. जिस तरह से उनके नेतृत्व में विधानसभा चुनाव में सामने से चुनाव लड़ा गया है. इस गीत में उसका उल्लेख किया गया है और ममता बनर्जी को देश की अगले पीएम के रूप में पेश करते हुए दिल्ली चलो की बात कही गई है. वीडियो को विभिन्न वाट्सऐप्प ग्रुप पर भेजा जा रहा है और जल्द ही ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया भी इसे लॉन्च करने की तैयारी की जा रही है. आम लोगों तक पहुंचने के लिए इसके कॉलर ट्यून, रिंगटोन बनाए जा रहे हैं.

सोशल मीडिया को टीएमसी कर रही है मजबूत

दूसरी ओर, तृणमूल कांग्रेस सोशल मीडिया पर अपनी सक्रियता बढ़ाने की योजना बनाई है. इसमें सोशल मीडिया एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है. बीजेपी के आईटी सेल से मुकाबले के लिए समानांतर प्लेटफार्म बनाया जा रहा है. प्रत्येक जिले में यह टीम काम करेगी. उन्हें टीम से प्रशिक्षण दिया जाएगा. 2024 से पहले की सियासी जंग में तृणमूल कांग्रेस सोशल मीडिया का भरपूर इस्तेमाल करने योजना बना रही है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment