अफगानिस्तान: तालिबान सरकार ने देश के चुनाव आयोग को किया भंग

मनोरंजनअफगानिस्तान: तालिबान सरकार ने देश के चुनाव आयोग को किया भंग

इस्लामाबाद : तालिबान ने अफगानिस्तान के दो चुनाव आयोगों के साथ-साथ शांति और संसदीय मामलों के राज्य मंत्रालयों को भंग कर दिया है. एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी.

अफगानिस्तान की तालिबान द्वारा संचालित सरकार के उप प्रवक्ता बिलाल करीमी ने कहा कि देश के स्वतंत्र चुनाव आयोग और चुनाव शिकायत आयोग को भंग कर दिया गया है।

उन्होंने चुनाव आयोग को “अफगानिस्तान में मौजूदा स्थिति के लिए अनावश्यक संस्थान” कहा। उन्होंने कहा कि अगर भविष्य में आयोगों की जरूरत पड़ी तो तालिबान सरकार उन्हें पुनर्जीवित कर सकती है।

अंतरराष्ट्रीय समुदाय अफगानिस्तान के नए शासकों को औपचारिक मान्यता देने से पहले इंतजार कर रहा है। वे इस बात से सावधान हैं कि तालिबान उसी तरह का कठोर शासन लागू कर सकता है, जब वे 20 साल पहले सत्ता में थे .

दोनों चुनाव आयोगों को राष्ट्रपति, संसदीय और प्रांतीय परिषद चुनावों सहित देश में सभी प्रकार के चुनावों का प्रशासन और पर्यवेक्षण करना अनिवार्य था।

करीमी ने कहा कि तालिबान ने शांति मंत्रालय और संसदीय मामलों के मंत्रालय को भी भंग कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार के मौजूदा ढांचे में वे अनावश्यक मंत्रालय हैं।

तालिबान ने इससे पहले महिला मामलों के मंत्रालय को बंद कर दिया था।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles