9.6 C
London
Sunday, April 21, 2024

जिस दोस्त ने घर घर जाकर बांटे कार्ड, उसके बिना निकाली बारात तो दोस्त ने ठोका मानहानि का केस

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

हरिद्वार में अजीबो-गरीब मामला सामने को मिला है. यहां एक शख्स ने अपने बचपन के दोस्त के खिलाफ मानहानि का दावा ठोक दिया. दरअसल, दूल्हा शादी वाले दिन बिना अपने दोस्त को लिए ही बारात लेकर निकल गया. इस बात से तिलमिलाए शख्स ने दूल्हे को 50 लाख का कानूनी नोटिस भेज दिया. 

क्या है पूरा मामला? 
बहादराबाद के आराध्य कॉलोनी निवासी रवि की धामपुर निवासी अंजू के साथ 23 जून को शादी होनी थी. जिसमें कनखल के रहने वाले चंद्रशेखर और उसके कई दोस्तों को जाना था. बारात का घर से निकलने का समय शाम 5 बजेपहले से तय था.

रवि और चंद्रशेखर बचपन से बहुत गहरे दोस्त हैं. लिहाजा रवि ने अपने दोस्त चंद्रशेखर को एक लिस्ट बनाकर दी कि वह शादी के कार्ड लोगों को बांट आए. ताकि वे लोग शादी में जाने के लिए यूपी के बिजनौर के धामपुर के लिए रवाना हो सके. 

घर पहुंचने पर निकल चुकी थी बारात 
रवि के कहने पर चंद्रशेखर ने बाकी दोस्तों को शादी के कार्ड बांटे. साथ ही आग्रह किया कि आपको 23 जून की शाम 5 बजे शादी में बारात के लिए चलना है. सभी लोग चंद्रशेखर के साथ रवि के घर 10 मिनट पहले 4 बजकर 50 मिनट पर पहुंच गए. जब वे पहुंचे तो पता चला कि बारात तो पहले ही जा चुकी है. इस पर चंद्रशेखर ने फोन पर जानकारी ली, तो रवि ने बताया कि हम लोग जा चुके हैं. आप लोग वापस चले जाओ. ऐसे में चंद्रशेखर के कहने पर जो लोग बारात में शामिल होने आए थे उन सभी लोगों को अपमान महसूस हुआ. सभी ने चंद्रशेखर को बुरा-भला कहा. दोस्तों ने कहा कि जानबूझकर रवि ने चंद्रशेखर की मानहानि की. 

तीन का दिया समय 
चंद्रशेखर ने रवि को फोन पर इस बारे में सूचना दी, लेकिन उसने कोई खेद प्रकट नहीं किया. जिस पर चंद्रशेखर ने अपने एडवोकेट अरुण भदौरिया के जरिए एक लीगल नोटिस रवि को भेजा है. जिसके तहत तीन दिन के भीतर मानहानि मामले को लेकर सार्वजनिक रूप से माफी मांगे और 50 लाख रुपये दें. ऐसा नहीं करने पर कोर्ट में वाद दायर किया जाएगा. मामला पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here