पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कसूर शहर से कुछ दूरी पर एक गाँव है जहाँ 80 वर्षीय अतहर खान रहते हैं। उनसे कुछ दूरी पर 75 वर्षीय नाजरीन भी है। अपनी युवावस्था के दौरान, दोनों एक-दूसरे से प्यार करते थे और घर बसाना चाहते थे, लेकिन उनके परिवार शादी के खिलाफ थे। इसलिए तब यह प्रेम कहानी आगे नहीं बढ़ सकी

अतहर की शादी हुई और तब उनके चार बच्चे हुए। उनकी पत्नी का निधन लगभग छह साल पहले हो गया था, जिसके बाद वह सिंगल हो गए। नाजरीन की भी कुछ ऐसी ही कहानी थी। नाजरीन के पति की 9 साल पहले मौत हो गई थी। उनके 6 बच्चे हैं और सभी की शादी हो चुकी है

अतहर खान और नाजरीन का कहना है कि बुढ़ापे का सहारा यानी उनके बच्चों ने उन्हें अकेला छोड़ दिया है। यही वजह रही कि दोनों ने इस उम्र में अपने बचपन के प्यार को निकाह का नाम देने का फैसला लिया

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *