13.9 C
London
Sunday, April 14, 2024

हूती विद्रोहियों पर हुए सऊदी अरब के सबसे घातक हमले में 80 लोगो की मौत

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

काहिरा: यमन (Yemen) के हूती विद्रोहियों (Houthi Rebels) द्वारा संचालित एक जेल (Jail) पर सऊदी अरब नीत सैन्य गठबंधन (Saudi Arabia-led Military Coalition) के हवाई हमले (Air Strike) में मरने वालों की संख्या कम से कम 80 हो गई है। विद्रोहियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। शुक्रवार को हुआ हवाई हमला एक बड़े हवाई और जमीनी हमले का हिस्सा था जिसने यमन के वर्षों से जारी गृह युद्ध में वृद्धि को चिन्हित किया। यह संघर्ष अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त सरकार एवं सऊदी के नेतृत्व वाले गठबंधन द्वारा सहायता प्राप्त सरकार और ईरान समर्थित विद्रोहियों के बीच है।

हूती विद्रोहियों के मीडिया कार्यालय ने मृतक संख्या की जानकारी देते हुए कहा कि बचाव दल अब भी सऊदी अरब के साथ सीमा पर उत्तरी प्रांत सादा में जेल स्थल के मलबे में जीवित बचे लोगों और शवों की तलाश कर रहे हैं। ‘डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स’ धर्मार्थ संस्था ने कहा कि हवाई हमले में लगभग 200 लोग घायल हुए हैं।

युद्ध के सबसे घातक हमलों में से एक, हवाई हमले के बाद संयुक्त राष्ट्र और अंतरराष्ट्रीय सहायता एवं अधिकार समूहों ने गठबंधन की फिर से आलोचना की। सऊदी गठबंधन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल तुर्क अल-मल्की ने आरोप लगाया कि हूती विद्रोहियों ने इस जगह को संयुक्त राष्ट्र या रेड क्रॉस की अंतरराष्ट्रीय समिति के समक्ष हवाई हमलों से सुरक्षा की जरूरत वाली जगह के तौर पर चिन्हित करते हुए इसकी सूचना नहीं दी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसा करने में हूतियों की विफलता संघर्ष में मिलिशिया के “सामान्य भ्रामक दृष्टिकोण” का प्रतिनिधित्व करती है। 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here