जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर अगस्त 2019 में इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के ठीक 18 महीने बाद समूचे जम्मू कश्मीर में हाई स्पीड की मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल की जा रही है। जम्मू कश्मीर प्रशासन के प्रवक्ता रोहित कंसल ने शुक्रवार को ट्वीट किया, समूचे जम्मू कश्मीर में 4 जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल की जा रही है। अगर दिन के हिसाब से देखें तो राज्य में कुल 550 दिनों बाद 4जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल हुई है। 

वहीं, जम्मू-कश्मीर में 4जी इंटरनेट सेवाल बहाल होने पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कहा है कि 4 जी मुबारक! अगस्त 2019 के बाद पहली बार पूरे जम्मू-कश्मीर में 4जी मोबाइल डेटा होगा। देर आए दुरुस्त आए।

हालांकि, जनवरी 2020 में 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवा को बहाल कर दिया गया था। वहीं, उधमपुर और गांदरबल में 16 अगस्त 2020 से हाई स्पीड इंटरनेट सेवाल बहाल जरूर की गई थी लेकिन यह ट्रायल बेसिस पर थी। जो कि आज भी चल रही है। लेकिन अब पूरे जम्मू-कश्मीर में 4जी इंटरनेट सेवाल को बहाल किया जा रहा है। राज्य में 4जी मोबाइल इंटरनेट सेवा ठप होने के लकर कई विपक्षी पार्टियों ने केंद्र सरकार पर निशाना भी साधा था।

हाल ही में नेशनल कॉन्फ्रेस के अध्यक्ष और पूर्व जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने राज्य में 4जी मोबाइल इंटरनेट सर्विस को लेकर पीएम मोदी पर निशाना था। उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री भारत में जल्द 5जी इंटरनेट सर्विस की बात कर रहे हैं लेकिन, जम्मू-कश्मीर को लोगों को 4जी मोबाइल इंटरनेट भी उपलब्ध नहीं करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री जम्मू-कश्मीर में रहे तो उन्हें पता चलेगा कि यहां के लोग 2जी मोबाइल इंटरनेट मोबाइल सेवा से किस तरह से परेशानियों से घिरे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *