महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और विधायक अबु आजमी ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने मुंबई में कहा ‘अगर हम जलेंगे तो सब जलेगा’ शेर के जरिए अपनी बात कही।

उन्होंने कहा कि आग लगेंगी तो सब जलेंगे। धर्म संसद कर 20 लाख मुस्लिमों को मारने की बात कही जाती है। मजाक है क्या? गाजर मूली समझे हो क्या? ये बात कोई मुस्लिम कर दे तो जिंदगीभर जेल में सड़ा दिया जाएगा।’

बता दें कि पुलिस द्वारा धारा 144 लागू करने के बावजूद समाजवादी पार्टी की ललकार रैली के दौरान अबू आजमी ने ये बाते कहीं। ये रैली मुंबई के बांद्रा पूर्व स्टेशन के नजदीक बेहराम पाड़ा इलाके में हुई है। 

इस दौरान अबु आजमी Abu Azmi) ने फिल्म कश्मीर फाइल्स पर कहा, ‘किसी पीएम ने आज तक किसी फिल्म का प्रमोशन नहीं किया। लेकिन एक फिल्म कश्मीर फाइल्स आई और थिएयर के लोग इसके जरिए हिंदुओ के मन में जहर भरे जा रहे हैं। लोग तलवार लेकर खड़े हैं।’

कश्मीर में मुस्लिम ज्यादा मरे हैं और पंडित कम मरे: आजमी

उन्होंने कहा, ‘कश्मीर में मुस्लिम ज्यादा मरे हैं और पंडित कम मरे हैं। इस फिल्म के जरिए जान बूझकर मुस्लिमों को बदनाम किया गया। पीएम मोदी ने कहा था कि पंडितों को बसाएंगे लेकिन क्यों आजतक नहीं बसाया। कोई जवाब नहीं देता।’

आजमी Abu Azmi) ने कहा, देश में इस बात की होड़ मची है कि किसका हिंदुत्व तगड़ा है और किसका हिंदुत्व मजबूत है। उद्धव ने कहा कि जो बाबरी पर चढ़े वो मराठी बोल रहे थे, तब आप कहां थे देवेंद्र। केवल 80 से 85 परसेंट वोट के लिए ये सब चल रहा है। जब जिन्ना ने पाकिस्तान बनाया, तो लोग वहां बोरिया बिस्तर लेकर जा रहे थे। उसी समय अगर ये तय कर दिया होता कि लाउड स्पीकर बजाओगे तो डबल आवाज में हनुमान चालीसा पढ़ेंगे, या फिर क्या खाओगे-क्या पहनोगे ये भी बता देते, तो हमारे बाप-दादा यहां नहीं रुकते और उसी समय चले जाते। 

सरकारी नौकरी में मुसलमान नहीं, जबकि आजाद हिन्द फौज में 40 फीसदी थे मुस्लिम: आजमी 

उन्होंने कहा कि हम आज भी भारत जिंदाबाद कहते हैं। कर्नाटक में लोग एक मस्जिद में हथियार लेकर दाखिल हो गए और कहा कि जय श्री राम के नारे बोलो, पुलिस तब आई जब मारपीट पूरी हो गई। ये सत्ता में जो गद्दार लोग बैठे हैं, ये अंग्रेजों के तलवे चाटने वाले लोग हैं। 

उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरी में मुसलमान कहां है? ये आप उंगली पर गिन सकते हो। जबकि आजाद हिन्द फौज जब बनी थी तो उसमें 40 परसेंट मुस्लिम थे और उसमें सेनापति भी मुस्लिम थे। 

उन्होंने कहा कि सूरत के मुस्लिम कारोबारी ने करोड़ों की प्रॉपर्टी बेचकर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को पैसा दिया था, लेकिन आज मुस्लिमों के साथ क्या हो रहा है! जब गांधी ने स्वदेशी आंदोलन चलाया तो मुस्लिम उस समय अपनी ब्रांडेड कंपनियों की एजेंसियों को त्यागकर स्वदेशी को अपनाए और हम गरीब हो गए। लेकन गद्दार लोगों ने उसे अपना लिया।

लाउडस्पीकर विवाद पर भी बोले अबु आजमी 

अबु आजमी Abu Azmi) ने लाउडस्पीकर विवाद पर भी बयान दिया। उन्होंने कहा कि लाउडस्पीकर को लेकर सिर्फ मस्जिद का नाम क्यों लिया जाता है? मन्दिर का भी नाम लो। मुझे उम्मीद है एक भी वोट तुम्हें नहीं मिलेगा। दुनिया के तमाम मुल्क सड़क पर नमाज पढ़ते हैं क्योंकि ईद और जुमे की नमाज साथ पढ़ी जाती है। 

आजमी ने कहा कि बहुत पहले हम शरद पवार के पास गए थे तो उन्होंने कहा कि मस्जिद में नमाज पढ़ो। हमने उनसे कहा कि आप हमारी मस्जिद जहां है, वहां FSI दो, लेकिन हमें FSI नहीं दी जाती, फिर कहते हैं कि रोड पर नमाज पढ़ते हैं।

आजमी ने कहा कि 22 साल हो गए जब एक मस्जिद के लिए जमीन खरीदी थी और उसके लिए कानूनन इजाजत भी ली थी, कोर्ट ने आदेश भी दिया था, लेकिन आज तक मस्जिद नहीं बनने दी गई। 

उन्होंने कहा कि इन लोगों ने मुस्लिमो को लेकर अफवाह फैलाई है कि मन्दिरों पर कब्जा करके मस्जिद बनी। मुस्लिमों ने लड़की से शादी कर उसे मुस्लिम बना दिया। आज हिंदुओ के मन में मुस्लिमो को लेकर नफरत फैला दी गई है। हिंदुओ को मुस्लिम फूटी आंखें नहीं सुहा रहे हैं। 

आजमी ने कर्नाटक के फैसले पर भी सवाल खड़ा किया कि हिजाब इस्लाम का हिस्सा नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं इसे नही मानूंगा। आप को कंटेप्ट ऑफ कोर्ट करना है तो कर दो। आज भारत देश मुस्लिम के लिए सबसे खतरनाक देश बन गया है। पीएम मोदी होश में आ जाओ।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment