मध्य प्रदेश के भोपाल में वैलेंटाइन डे पर उत्पात मचाने के मामलों में एक पूर्व बीजेपी विधायक समेत कम से कम 17 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इन लोगों ने दो अलग-अलग मामलो में कथित तौर पर एक हुक्का बार और रेस्टोरेंट के मालिकों पर ‘लव जिहाद’ को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए इन जगहों पर हमला किया. अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है.

भोपाल DIG इरशाद वाली ने बताया, ”शिकायतों के आधार पर और जिनकी पहचान हुई है, हमने 17 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह भी शामिल हैं.”

खुद को भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) और शिवसेना का कार्यकर्ता बताने वाले लोगों ने रविवार को कथित तौर पर भगवा झंडे उठाकर और जय श्रीराम के नारे लगाते हुए हंगामा किया.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, पहले मामले में, खुद को राज्य में सत्तारूढ़ बीजेपी की यूथ विंग BJYM का कार्यकर्ता बताने वाले लोगों के ग्रुप ने भोपाल के श्यामला हिल्स स्थित जंकयार्ड कैफे में जाकर हंगामा किया.

कैफे के मैनेजर नरेंद्र कुमार ने पुलिस से की गई अपनी शिकायत में बताया है कि दोपहर 12.20 बजे, हॉकी स्टिक और बैट लेकर 8 लोग कैफे में घुस आए और ग्राहकों को गालियां देने लगे और उन्होंने कथित तौर पर कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार किया, फिर वे कैफे के अंदर फर्नीचर तोड़ने के लिए आगे बढ़े. 

पुलिस को दिए गए अपने बयान में नरेंद्र सिंह ने बताया, ” उन लोगों ने कहा- ”तुम लोग लव जिहाद को बढ़ावा देते हो. यह एक ट्रेलर है. दोबारा कैफे में दिखे तो हम तुम्हारी जान ले लेंगे.””

लगभग उसी समय, भगवा झंडे पकड़े हुए, तीन महिलाओं सहित करीब 10 लोगों के एक ग्रुप ने बिट्टन बाजार के पास काउबॉय रेस्ट्रो बार में तोड़फोड़ की.इस मामले को लेकर राहुल यादव नाम के शख्स ने अपनी शिकायत में कहा कि खुद को शिवसेना का कार्यकर्ता बताने वाले लोगों ने रेस्टोरेंट में ग्राहकों को गालियां शुरू कर दिया था, ‘’रेस्टोरेंट में मेरे वर्कर्स और मैंने मामले में दखल देने की कोशिश की, हमें भी मामूली चोटें आई हैं. उन्होंने अंदर का फर्नीचर तोड़ दिया और फिर वे चले गए.’’

रविवार की घटना पर पुलिस का कहना है कि हमलावरों में से कई ने खुद को भोपाल दक्षिण पश्चिम के पूर्व बीजेपी विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह से जुड़ा हुआ बताया है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *