11.4 C
London
Wednesday, February 28, 2024

जयपुर में पक्षियों के लिए बना 1300 फ्लैट्स का आलीशान अपार्टमेंट, अब 6 मंजिला आशियाने में रहेंगे पक्षी, देखे तस्वीरें

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

राजस्थान के जयपुर (jaipur) में बना एक 6 मंजिला रंग-बिरंगा अपार्टमेंट इन दिनों काफी चर्चा में है.

अपार्टमेंट देखने में बहुत सुंदर और आकर्षक रंगों वाला है लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि यह अपार्टमेंट इंसानों के रहने के लिए नहीं बल्कि पक्षियों के लिए बनाया गया है. इस अपार्टमेंट्स (bird apartment) में पक्षियों के लिए छोटे-छोटे फ्लैट्स बनाए गए हैं जहां पक्षी अपना आशियाना बसा सकेंगे. बता दें कि राजधानी जयपुर में पिंजरापोल गौशाला की ओर से एक आकर्षक अपार्टमेंट जैसा पक्षीघर बनाया गया है जहां केवल पक्षियों के रहने की व्यवस्था की गई है. इस 6 मंजिला अर्पाटमेंट में घरौंदे के आकार के छोटे-छोटे फ्लैट (bird flat) बनाए गए हैं जहां पर पक्षियों के लिए दाना, पानी और अन्य आवश्यक सुविधाएं भी दी जाएंगी.

80 फीट ऊंचा है अपार्टमेंट

मिली जानकारी के मुताबिक पक्षी दिनभर घूमने के बाद शाम के समय इन फ्लैट्स में आकर आराम कर रहे हैं. वहीं कुछ पक्षियों ने यहां अंडे भी दे दिए हैं. इसके अलावा गौशाला में बने इन फ्लैट्स का ध्यान रखने के लिए यहां 3 कर्मचारी भी लगाए गए हैं.

शाम के समय पक्षी करते हैं विश्राम

1300 घरौंदेनुमा फ्लैट्स का आशियाना

गौशाला की ओर से अपार्टमेंट में घरौंदेनुमा 1300 फ्लैट्स बनाए गए हैं जहां कर्मचारी सुबह और शाम दोनों समय पक्षियों के लिए दाना-पानी का प्रबंध करते हैं. बता दें कि इस अपार्टमेंट को पक्षी तीर्थ नाम दिया गया है जिसकी 6 मंजिलों की ऊंचाई 80 फीट है.

अपार्टमेंट में हैं घरौंदेनुमा 1300 फ्लैट्स

हर एक फ्लैट्स में एक से दो पक्षी आराम से रह सकते हैं. फ्लैट्स के नीचे दिनभर 3 कर्मचारी रहते हैं जो पक्षियों के लिए दाना जमीन पर डाल देते हैं या उनके आश्रय स्थल तक पहुंचा देते हैं.

कई जगह किया गया यह प्रयोग

वहीं पिंजरापोल गौशाला प्रबंध समिति के सदस्य राजू मंगोडीवाला ने बताया कि उज्जैन में पक्षियों के लिए घरौंदानुमा फ्लैट्स बने हुए हैं जिनके बारे में जानकारी मिलने पर जयपुर में भी पक्षियों के लिए इस तरह के घर बनाने का फैसला किया गया.

पक्षियों के लिए है दाना-पानी का प्रबंध

राजू के मुताबिक गौशाला की ओर से करीब करीब दो महीने पहले इसका निर्माण कार्य शुरू किया गया जिसके बाद अब यह बनकर तैयार है. उन्होंने कहा कि पक्षी दिनभर घूमने के बाद शाम के समय इन फ्लैट्स में आ जाते हैं.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Ahsan Ali
Ahsan Ali
Journalist, Media Person Editor-in-Chief Of Reportlook full time journalism.

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here