नई दिल्ली: शिवसेना नेता व राज्यसभा सदस्य संजय राउत के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने रविवार को मानहानि का केस दर्ज किया है। संजय राउत पर आरोप है कि उन्होंने दो निजी टीवी चैनल पर दिए गए साक्षात्कार में भाजपा कार्यकर्ताओं को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महासचिव दीप्ति रावत भारद्वाज ने संजय राउत के खिलाफ मंडावली थाने में शिकायत दी थी, साथ में साक्षात्कार की वीडियो भी पुलिस काे सौंपी थी।

जांच के बाद पुलिस ने आइपीसी की धारा 509 और 500 (अपशब्दों का प्रयोग व मानहानि) का केस दर्ज किया है। शिकायतकर्ता ने पुलिस से गुहार लगाई है कि पुलिस संजय राउत पर छेड़छाड़ की धारा भी लगाए।

जानकारी के अनुसार दीप्ति रावत भारद्वाज आइपी एक्सटेंशन में रहती हैं। दीप्ति रावत ने पुलिस को बताया कि वह बृहस्पतिवार को एक निजी मराठी चैनल देख रही थी। उस पर संजय राउत का साक्षात्कार आ रहा था, वह अपने साक्षात्कार में भाजपा कार्यकर्ताओं को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे थे।

उन्होंने आरोप लगाया कि उस टिप्पणी से कार्यकर्ताओं की भावनाएं आहत हुई हैं, उन्होंने राउत के खिलाफ थाने में लिखित शिकायत दी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल करके केस दर्ज किया। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

बता दें कि संजय राउत को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और ठाकरे परिवार का कराबी माना जाता है। संजय राउत शिवसेना की तरफ से पार्टी का पक्ष मीडिया में रखते हैं। उन्हें भाजपा का विरोधी माना जाता है। मिली जानकारी के अनुसार, इस मामले को लेकर अभी तक शिवसेना या संजय राउत की तरफ से कोई बयान सामने नही आया है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment