फिनटेक स्टार्टअप भारतपे (BharatPe) और उसके पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर अशनीर ग्रोवर (Ashneer Grover) के बीच जारी विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों तरफ से लगातार एक दूसरे के लिए कड़वे शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है। ताजा मामला भारतपे के एक कर्मचारी की लिंक्डइन पोस्ट से जुड़ा है, जिसके कमेंट में अशनीर ग्रोवर की बहन और कंपनी के सीईओ सुहैल समीर सार्वजनिक रूप से एक दूसरे से भिड़ गए।

BharatPe में आईटी एसोसिएट के पद पर काम करने वाले एक कर्मचारी करन सराकी ने बुधवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर एक पोस्ट लिखा। करन ने पोस्ट में कहा कि उन्हें और कंपनी के कई कर्मचारियों को मार्च महीने की सैलरी नहीं मिली है।

करन ने लिखा, “हम BharatPe के शुरुआत के साथ से ही कंपनी में है, लेकिन आज आपकी अंदरूनी राजनीति की वजह से हमें अपने हाल पर छोड़ दिया है।” करन ने अपनी पोस्ट में BharatPe के सीईओ सुहैल समीर, को-फाउंडर शाश्वत नकरानी और भारत के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर अशनीर ग्रोवर को टैग भी किया।

करन सराकी ने अपनी पोस्ट में दावा किया BharatPe ने कर्मचारियों के उन पैसों को भी नहीं लौटाया या रिइम्बर्स किया, जिन्हें कर्मचारियों ने कंपनी के कामों के लिए अपनी जेब से खर्च किए थे। उन्होंने कहा, “हम अमीर लोग नहीं है और हमें अपने परिवार का खर्च चलाना होता है, बच्चों की देखभाल करनी होती है। BharatPe के कई स्टाफ गोवा में कंपनी के पैसों से छुट्टी मना रहे हैं और वहीं हमारे जैसे कर्मचारी सैलरी और जॉब के लिए संघर्ष कर रहे हैं। आप कैसे लीडर्स हैं!”

सराकी ने दावा किया कि BharatPe के जो शुरुआती एडमिनिस्ट्रेशन स्टाफ थे, उन्हें बिना कोई कारण बताए बर्खास्त कर दिया गया है और उनकी सैलरी भी नहीं पूरी दी गई है। करन सराकी के इस पोस्ट पर BharatPe के एक पूर्व एडमिन एंप्लॉयी धनंजय कुमार ने कहा, “मेरी मां को फेफड़े से जुड़ी बीमारी है और वो अस्पताल में भर्ती हैं। कृपया हमारे बाकी पैसे और ESOP (एंप्लॉयी स्टॉक ओनरशिप प्लान) को लौटा दें।”

अशनीर ने कहा- ‘सबसे पहले सैलरी पर दें ध्यान’अशनीर ग्रोवर ने सुहैल समीर को इस मामले को देखने को कहा। अशनीर ने कहा, “यह सही नहीं है। किसी भी चीज से पहले इन लोगों की सैलरी का भुगतान करना चाहिए।”

अशनीर की बहन ने किया कमेंट तो CEO सुहैल समीर ने दिया तीखा जवाब 

अशनीर ग्रोवर की बहन आशीमा ग्रोवर भी इस पोस्ट को लेकर जारी बहस में शामिल हुईं और उन्होंने BharatPe के टॉप मैनेजमेंट को ‘बेशर्म लोगों का झुंड’ करार दिया। सीईओ सुहैल समीर ने आशीमा के इस कमेंट का जवाब दिया और कहा, “तेरे भाई ने सारा पैसा चुरा लिया। सैलरी देने के लिए काफी कम पैसा बचा है।”

सुहैल के टिप्पणी की हुई आलोचना

इसके बाद कई लोगों ने सुहैल के इस टिप्पणी की आलोचना की। एक बिजनेस मैनेजर विनोद आचार्य ने लिखा, “मुझे विश्वास नहीं होता है आपके स्तर का कोई CEO बेशर्मी से जवाब दे रहा है। मुझे लगता है कि आप यहां पर व्यंग्य कसने या ताने मारने के बहाने कोई व्यक्तिगत खुन्नस निकालने की कोशिश कर रहे हैं।”

बता दें कि अशनीर ग्रोवर और उनकी पत्नी माधुरी जैन पर BharatPe ने वित्तीय अनियमितताओं का आरोप लगाया है। कंपनी ने कहा था कि दोनों कंपनी के पैसों को दुरुपयोग कर आलीशान जिंदगी जी रहे थे। माधुरी जैन को कंपनी ने फरवरी में हेड ऑफ कंट्रोल्स पद से हटाया था। वहीं अशनीर ग्रोवर को BharatPe ने मार्च में कंपनी से हटाया था।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment