डॉक्टरों को हिरासत में लेने पर राहुल गांधी का सरकार पर निशाना, बोले – फूल बरसाना दिखावे का PR

मनोरंजनडॉक्टरों को हिरासत में लेने पर राहुल गांधी का सरकार पर निशाना, बोले - फूल बरसाना दिखावे का PR

Doctors Strike: नीट पीजी काउंसलिंग 2021 (NEET PG COUNSELLING 2021) में हो रही देरी के कारण डॉक्टरों की हड़ताल जारी है. सोमवार को डॉक्टर हड़ताल पर रहे. डॉक्टर दिल्ली के ITO पर विरोध मार्च निकाल रहे थे.

इसी दौरान दिल्ली पुलिस ने कई डॉक्टरों को हिरासत में ले लिया. वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसे अन्याय करार दिया है. अब डॉक्टर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के आवास का घेराव करने की तैयारी कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि दिल्ली के ITO के पास प्रदर्शन कर रहे डॉक्टरों को पुलिस ने रोड से हटाया दिया है. डॉक्टर्स रोड ब्लॉक कर प्रदर्शन कर रहे थे. पुलिस और डॉक्टरों के बीच हल्की झड़प भी हुई थी, जिसके बाद 12 डॉक्टरों को पुलिस हिरासत में लेने के बाद छोड़ दिया है. 7 पुलिसकर्मी मामूली रूप से घायल हुए हैं. पुलिस इस मामले में मुकदमा भी दर्ज कर सकती है.

हालांकि डॉक्टरों के प्रदर्शन और दिल्ली पुलिस की ओर से उन्हें हिरासत में लिए जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि फूल बरसाना दिखावे का PR था असलियत में अन्याय बरसा रहे हैं. केंद्र सरकार के अत्याचार के ख़िलाफ़ मैं #CovidWarriors के साथ हूं.

फूल बरसाना दिखावे का PR था,
असलियत में अन्याय बरसा रहें हैं।

केंद्र सरकार के अत्याचार के ख़िलाफ़ मैं #CovidWarriors के साथ हूँ।#NEETPG pic.twitter.com/lzmWjLrwMZ

‘डॉक्टर्स की बिरादरी के लिए काला दिन’

उधर, डॉक्टरों ने सुप्रीम कोर्ट तक मार्च निकालने की कोशिश की थी, जिसे दिल्ली पुलिस ने रोक दिया था. वहीं फोर्डा (FORDA) ने इसे डॉक्टर्स की बिरादरी के लिए इतिहास में काला दिन बताया.

‘डॉक्टरों को बेरहमी से पीटा और हिरासत में लिया’

फोर्डा ने बयान जारी कर कहा कि रेजिडेंट डॉक्टर्स जिन्हें कथित रूप से “कोरोना वारियर्स” भी कहा जाता है, वह दिल्ली में नीट पीजी काउंसलिंग (Expedite NEET PG Counselling 2021) की मांग को लेकर शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें बेरहमी से पीटा और हिरासत में लिया. इधर, एनसएयूआई ने भी सरकार के रवैये की निंदा की है.

तानाशाह मोदी सरकार पुलिस के बल पर देश के डाक्टरों के साथ किस प्रकार का दुर्व्यवहार कर रही है, यह बेहद विरादक है।

एक तरफ तीसरी लहर की आशंका है, स्वास्थ्य व्यवस्था गंभीर स्थिति में है ऐसे में इन डाक्टरों की #neetpg2021counselling समय पर करवाने की मांग पूरी की जानी चाहिए। pic.twitter.com/XV994DzcgI

‘स्वास्थ्य संस्थान पूरी तरह से बंद रहेंगे’

फोर्डा ने कहा कि आज से सभी स्वास्थ्य संस्थान पूरी तरह से बंद रहेंगे. साथ ही FORDA प्रतिनिधियों और रेजिडेंट डॉक्टरों की तत्काल रिहाई की मांग की. इतना ही नहीं फोर्डा की ओर से कहा गया है कि देश की चिकित्सा बिरादरी को इसकी निंदा करनी चाहिए और हमारे समर्थन में आगे आना चाहिए.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री का आवास घेरने की तैयारी

फोर्डा की हड़ताल के दौरान प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर्स को दिल्ली पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद डॉक्टर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के आवास का घेराव करने की तैयारी कर रहे हैं.

सफदरजंग से बसों में रवाना होंगे डॉक्टर

जानकारी के मुताबिक थोड़ी देर बाद भारी संख्या में डॉक्टर बसों में सवार होकर सफदरजंग से रवाना होंगे. बता दें कि डॉक्टर्स दिल्ली पुलिस की ओर से सोमवार को की गई कार्रवाई से नाराज हैं.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles