गृहमंत्रालय के एक लेटर के बाद लगाया गया BGMI गेम पर बैन 

मनोरंजनगृहमंत्रालय के एक लेटर के बाद लगाया गया BGMI गेम पर बैन 

भारत में लोकप्रिय बैटल रॉयल गेम बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया (बीजीएमआई) पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। केंद्रीय खुफिया एजेंसी और गृह मंत्रालय (MHA) से इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को एक रिपोर्ट भेजी गई जिसके बाद इस गेम को बंद करने का फैसला किया गया। रिपोर्ट में यह बताया गया कि कैसे इस गेम के भारतीय उपयोगकर्ता पर लक्षित साइबर हमले किए जा सकते थे और डाटा का उपयोग करके साइबर खतरा भी पैदा किया जा सकता था।

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के मुताबिक एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी के बताया कि गेम के ऐप में कई समस्याएं हैं लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह चीन में स्थित सर्वरों के साथ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से संचार कर रहा था। सूत्रों ने यह भी पुष्टि की कि “रीब्रांडेड” वाले अन्य ऐप भी चीन में सर्वर के साथ संचार (कम्युनिकेशन) कर रहे हैं और जांच के दायरे में हैं।

अधिकारी ने बताया, “विश्लेषण से यह भी पता चला है कि इस एप्लिकेशन में दुर्भावनापूर्ण कोड है और कई महत्वपूर्ण परमिशन भी लेता है, जिसका दुरुपयोग कैमरा / माइक्रोफ़ोन, लोकेशन ट्रैकिंग और दुर्भावनापूर्ण नेटवर्क गतिविधियों के माध्यम से निगरानी के लिए उपयोगकर्ता डेटा से समझौता करने के लिए तैयार हो जाता है। ऐसे ऐप्स भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए हानिकारक हैं और भारतीय सुरक्षा ग्रिड के लिए बहुत खतरनाक हो सकते हैं। इनपुट हमारे साथ साझा किए गए थे और सरकार की ओर से बिना किसी देरी के तत्काल कार्रवाई की गई।”

गेम को बंद करने का अधिकारिक आदेश तो सरकार की ओर से अभी नहीं आया है लेकिन प्ले स्टोर को इसे हटाने के निर्देश दे दिए गए हैं। इस बीच गूगल ने आधिकारिक बयान देते हुए कहा है कि उसे गेम को हटाने के लिए सरकार से एक आधिकारिक आदेश मिला है। आदेश प्राप्त होने पर प्रक्रिया का पालन करते हुए हमने प्रभावित डेवलपर को सूचित किया है और भारत में प्ले स्टोर पर उपलब्ध ऐप को ब्लॉक कर दिया है।

सरकार लगातार उन चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा रही है जो कथित तौर पर विभिन्न भारतीय मानदंडों का उल्लंघन करते हैं। इसी वर्ष फरवरी में 54 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया गया था, जो इस बात पर भी ध्यान आकर्षित करते हैं कि वे भारत की सुरक्षा के लिए खतरा हैं क्योंकि सीमा पर भी तनाव जारी है।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles